जो लड़कियां शीशे के सामने खड़े होकर तीन घंटे-shayari

जो लड़कियां शीशे के सामने खड़े होकर तीन घंटे मेकअप
करतीं हैं
.

.
वो अच्छे से जानती है….कि
उनमें कितनी कमियां है😁

 ⃟ ▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬ ⃟✹ ⃟ ▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬  ⃟

मैं पीड़ा के सिंघासन का…
इकलौता अधिकारी हूँ…
जिसने – जिसने जख्म दिए…
उन सबका आभारी हूँ…!!!

 ⃟ ▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬ ⃟✹ ⃟ ▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬  ⃟

अगर करीब आने का दिल करें,
तो इतना करीब आना की।

इस दिल को पता भी ना चले की,
धड़कनें तूम्हारी है या हमारी ।💞

 ⃟ ▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬ ⃟✹ ⃟ ▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬  ⃟

Shayari

तुम्हारे पास ही तो हूँ…
ज़रा ख्याल करके देखो
आँखों की जगह दिल का….
इस्तेमाल करके देखो…

 ⃟ ▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬ ⃟✹ ⃟ ▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬  ⃟

खूबसूरत है वो लब……जिन पर, दूसरों के लिए कोई दुआ आ जाए!!
खूबसूरत है वो दिल जो किसी के, दुख मे शामिल हो जाए !

 ⃟ ▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬ ⃟✹ ⃟ ▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬  ⃟

तुम रूठ गए तो दिक्कत हो जयेगी,,
अगर मेने मनाया तो मोहब्बत हो जयेगी,
कुछ फासला यूही बरकरार रहने दो,,
तुम जो मर्जी करलो मगर प्यार रहने दो 😘😘😘

 ⃟ ▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬ ⃟✹ ⃟ ▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬  ⃟

यूँ ही गुजर जाते हैं मीठे लम्हे किसी मुसाफिर की तरह
और यादें वहीँ खड़ी रह जाती हैं
रुके रास्तों की तरह

 ⃟ ▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬ ⃟✹ ⃟ ▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬  ⃟

काँपता हुआ दर्द से टुटता हुआ जिस्म मेरा सिसकती हुई चीखे उफनती हुई मेरी सांसे
बिखरा बिखरा सा है वजूद मेरा
रूह का हुआ है कत्ल
नोच नोच कर खा गया
मुझे ये बेहुदा शौक तेरा

 ⃟ ▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬ ⃟✹ ⃟ ▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬  ⃟

रिश्तो का गलत इस्तेमाल
कभी मत करना

अच्छे लोग जिन्दगी में
बार बार नही आते

🌹👩‍❤️‍👨💓

 ⃟ ▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬ ⃟✹ ⃟ ▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬  ⃟

Shayari

अमीर इतने बनो कि आप कितनी भी
कीमती चीज को जब चाहो खरीद सको,
और कीमती इतने बनो की कोई अमीर
व्यक्ति आपको खरीद ना सके।

 ⃟ ▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬ ⃟✹ ⃟ ▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬  ⃟

हमे यूं नज़रंदाज करने लगे हो
लगता है किसी और गली जाने लगे हो
ये तो बताओ
इश्क़ कर रहे हो या कही फड़फड़ा रहे हो
😄

 ⃟ ▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬ ⃟✹ ⃟ ▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬  ⃟

लू भी चलती थी तो बादे-शबा कहते थे,
पांव फैलाये अंधेरो को दिया कहते थे,
उनका अंजाम तुझे याद नही है शायद,
और भी लोग थे जो खुद को खुदा कहते थे।

 ⃟ ▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬ ⃟✹ ⃟ ▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬  ⃟

_एक तकिया चाहिए_
_सर रख के रोने के लिए_
_एक रुमाल चाहिए आंसू पोछने के लिए_
_एक नई जिंदगी चाहिए_
_सब ठीक करने के लिए_
_एक मौत चाहिए नई जिंदगी जीने के लिए_

 ⃟ ▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬ ⃟✹ ⃟ ▬▬▬▬▬▬▬▬▬▬  ⃟

“दर्द कितना है बता नहीं सकते;
ज़ख़्म कितने हैं दिखा नहीं सकते;
आँखों से समझ सको तो समझ लो;
आँसू गिरे हैं कितने गिना नहीं सकते।

 

Download Desibanta Apps

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *